भीनमाल उप कारागार में चल रहा अवैध वसूली का दौर, लॉकडाउन के बाद भी जारी है मेल मुलाकातें -जेल में पहुंचाई जा रही नशीली वस्तुएं

भीनमाल उप कारागार में चल रहा अवैध वसूली का दौर, लॉकडाउन के बाद भी जारी है मेल मुलाकातें -जेल में पहुंचाई जा रही नशीली वस्तुएं

फर्स्ट राजस्थान। जालोर

जालोर जिले के भीनमाल उप कारागार में महानिदेशक कारागार के आदेशों की अवहेलना की जा रही है । कोरोना वायरस को देखते हुए लॉक डाउन के कारण महानिदेशक कारागार ने 18 मार्च को एक आदेश पत्र जारी कर बताया था कि किसी भी परिस्थिति में बन्दियों से उनके मित्रों, परिजनों व अधिवक्ताओं से मुलाकात नहीं करवाई जा सकती । बहुत ही आपात स्थिति होने पर ही मुलाकात आदेशों के बाद करवाई जा सकेगी, लेकिन भीनमाल उप कारागार में इन आदेशों की अवहेलना हो रही है । लॉक डाउन में अवैध वसूली के तहत जेल प्रशासन की ओर से बंदियों के साथ मुलाकातें करवाई जा रही है। चोरी छुपे की जारी मुलाकातों के पीछे बताया जा रहा है कि जेल प्रशासन की ओर से अच्छी खासी रकम भी वसूल की जा रही है । इतना ही नहीं इनके साथ नशीले पदार्थ बीड़ी जर्दा आदि भी जेल में पहुंचाया जा रहा है । इस संबंध में किसी बंदी के परिजन की ओर से वीडियो बनाकर वायरल भी किया गया है और साथ ही इस बारे में जेल निदेशक को एक शिकायत भी भेजी है।

मुलाकात के लिए लाइन में लगे बन्दियों के परिजन

विफल हो सकते है प्रशासन के प्रयास
आपको बता दें कि लॉक डाउन के कारण जेल में मुलाकातों का सिलसिला बंद किया हुआ है , लेकिन भीनमाल में इस तरह के खेल के कारण वायरस के फैलने की आशंका बनी हुई है । जेल प्रशासन की लापरवाही के कारण जिला प्रशासन के सारे प्रयासों पर पानी फिर सकता है।

जेल की टेबल में पड़ी बीड़ी जर्दा के बंडल