भीनमाल : प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री का संदेश देकर नियमों का पालना करने के दिए निर्देश

भीनमाल : प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री का संदेश देकर नियमों का पालना करने के दिए निर्देश

भीनमाल : प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री का संदेश देकर नियमों का पालना करने के दिए निर्देश
भीनमाल : प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री का संदेश देकर नियमों का पालना करने के दिए निर्देश
  • प्रशासन ने नो मास्क, नो एंट्री का संदेश देकर नियमों का पालना करने के दिए निर्देश
  • बैठक में व्यापारियों को कड़ाई से पालन करने के निर्देश
  • नियमों की पालना नही करने पर होगी कार्यवाही

फर्स्ट राजस्थान - भीनमाल। चिराग प्रजापत

सीएम अशोक गहलोत के कोरोना जागरूकता संवाद के बाद प्रशासन ने नो मास्क नो एंट्री अभियान शुरू कर दिया है। बुधवार को एसडीएम ओमप्रकाश व तहसीलदार कालुराम ने विकास भवन में व्यापरियों के साथ बैठक की। एसडीएम ओमप्रकाश ने बैठक में व्यापरियों से लोगो को जागरूक करने, दुकान पर सामान देते समय मास्क लगाने, बिना मास्क सामान नही देने, सामान देते समय दूरी बनाए रखने रखने को कहा। साथ ही दुकान पर सामान लेने आये ग्राहक को जागरूक करे। एसडीएम ने कहा कि दुकानदारव लोगो की ओर से नियमो की कड़ाई से पालना नही करने पर कार्यवाही की जाएगी। एसडीएम ओमप्रकाश ने कहा कि कोरोना को हर व्यक्ति गंभीरता से लेते हुए अनिवार्य रूप से मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग रखें और हैल्थ प्रोटोकॉल की पूरी तरह से पालना करें तो संक्रमण पर पूरी तरह से काबू में किया जा सकता। तहसीलदार कालुराम कुम्हार ने कहा कि इस महामारी में खुद की रक्षा करने से ही औरों की रक्षा संभव है. लेकिन एक संक्रमित व्यक्ति बड़ी संख्या में अन्य लोगों की जान को जोखिम में भी डाल सकता है. ऐसे में, कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने में सभी लोग मिलकर ही कामयाब हो सकते हैं। बैठक में पुलिस उप अधीक्षक शंकरलाल, बीसीएमओ दिनेश विश्नोई समेत व्यापारी मौजूद रहे।

मास्क वितरण कर निर्देश दिए
इसके अलावा उपखंड परिसर में प्रशासन द्वारा अधिवक्ताओं को मास्क वितरण किए गए। कोविड-19 से बचाव व रोकथाम को लेकर परिसर में मास्क पहनने के लिए निर्देश दिए। साथ ही परिसर में बैठे अधिवक्ताओं, स्टाम्प वेंडर समेत अन्य लोगो को प्रशासन का सहयोग करने को कहा। उपखण्ड अधिकारी ने कहा नियमों की अवहेलना पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

नो मास्क नो एन्ट्री
एसडीएम व तहसीलदार ने सार्वजनिक स्थानों, सड़कों, बाजारों, कार्यस्थलों, धार्मिक स्थलों, सार्वजनिक परिवहन के साधनों, सामाजिक आयोजनों में पर 'नो मास्क, नो एन्ट्री का संकल्प लेने और स्वयं ही इसकी पालना सुनिश्चित करने की अपील की। इसके अलावा एसडीएम कार्यालय के बाहर नो मास्क नो एंट्री का पोस्टर विमोचन किया। अब सरकारी दफ्तर में किसी सरकारी कर्मचारी व अन्य लोगो को बिना के अन्दर आने की अनुमत नही दी जाएगी। तहसीलदार कालुराम कुम्हार ने सभी से मास्क पहनने व गाइडलाइन की पूरी पालना करने की अपील की। इस दौरान कर्मचारियों ने सरकारी कार्यालयों में ‘नो मास्क नो एंट्री’ अभियान को सही बताया।