जालोर : शहर में छत पर सोने के दौरान बंदरो का आतंक, पिछले एक सप्ताह में पांच लोगों को काटा

जालोर : शहर में छत पर सोने के दौरान बंदरो का आतंक, पिछले एक सप्ताह में पांच लोगों को काटा

  • अब लोग अपने घर की छत पर सोने से डरने लगे

फर्स्ट राजस्थान - जालोर।

शहर में पिछले कुछ दिनों से बंदरों का आतंक इस प्रकार बढ़ गया है। लोग शाम के समय अपने ही घरों की छत पर सोने से डरने लगे है। छत पर सोने के दौरान बंदर लोगों को काटने लगे है। जिससे लोगो में भय बढ़ गया है। बंदरो ने कई लोगों को चोट पहुंचाकर गंभीर घायल कर दिया है। जानकारी के अनुसार रविवार व सोमवार की रात में शहर में ऐसी दो से तीन घटनाएं सामने आई है।

बंदरों द्वारा सोते हुए लोगों को काट कर चोट पहुंचाई गई है। ऐसे में अब लोग अपने ही घर की छत पर सोने से डरने लगे है। इधर मंगलवार को सोशल मीडिया पर भी बंदरों द्वारा छत पर सोए हुए बच्चों को काटने की घटना के फोटो वायरल हुए। जिससे लोगो में और डर का माहौल बन गया। इसको लेकर मंगलवार को वार्ड 15 के पार्षद बसंत सुथार के नेतृत्व में लोगों ने जिला वन अधिकारी मंगलसिंह को ज्ञापन सौंपकर बंदरों को पकड़ने की मांग की। ज्ञापन में बताया कि पिछले पांच दिन से बंदरो द्वारा हमला करने की घटनाएं हो रही है। जिसमें कई लोग घायल हुए है।

मामले में वार्डवासियों ने वन विभाग से बंदरो को रेस्क्यू कर बाहर छोड़ने की मांग की है। इधर इस मामले में डीएफओ मंगलसिंह ने कहा कि जोधपुर से टीम बुलाकार बंदरो को रेस्क्यू करने का प्रयास किया जाएगा। जिससे ऐसी घटनाएं ना हो। इस दौरान पारस सुथार, मनीष परमार, यशवंत मेवाडा, पन्नलाल, दीपक सुथार, तरुण, मयंक देवड़ा, लक्ष्मण आदि कई लोग मौजूद थे। आपको बता दे कि गर्मी के मौसम में अक्सर कई लोग अपने घर की छत पर सोते है। ऐसे में अब बंदरों द्वारा हमला करने की घटना से लोग डरने लगे है तथा अपने ही घर की छत पर सोने से परहेज करने लगे है।

इनका कहना है :

कुछ दिन पहले मैं घर की छत पर सो रहा था, सुबह के करीब 7 बजे होंगे, कि दो बंदर एक साथ आए। उनमें से एक मुझे काटने लगा और दूसरा भाग गया। इसके बाद तुरन्त अस्पताल गया और उपचार करवाया।
- पारसमल, सरदार पटेल मार्ग, जालोर

शहर के वार्ड 15 समेत अन्य वार्डो में कई घरो में रात के समय बंदरो द्वारा लोगो को चोट पहुंचाने की जानकारी सामने आने के बाद मैने मंगलवार को डीएफओ को ज्ञापन सौंपकर बंदरो को पकड़ने की मांग की है। पिछले दिनो से बंदरो द्वारा इस तरह की घटना को अंजाम देने से लोगो में डर का माहौल बन गया है।
-बसंत सुथार, पार्षद नगर परिषद जालोर