शुद्ध के लिए युद्ध अभियान तेज, एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग ने विभिन्न दुकानों में छापेमारी कर लिए सैम्पल…

शुद्ध के लिए युद्ध अभियान तेज, एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग ने विभिन्न दुकानों में छापेमारी कर लिए सैम्पल…

शुद्ध के लिए युद्ध अभियान तेज, एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग ने विभिन्न दुकानों में छापेमारी कर लिए सैम्पल…
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान तेज, एसडीएम व स्वास्थ्य विभाग ने विभिन्न दुकानों में छापेमारी कर लिए सैम्पल…

रिपोर्टर - गौरव अग्रवाल

फर्स्ट राजस्थान - सरुपगंज।

राजस्थान सरकार के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा के निर्देश पर प्रदेशभर में चलाए जा रहे शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत मिलावटखोरो के खिलाफ लगातार कार्रवाई हो रही है।इसी के तहत मंगलवार को एसडीएम हरिसिंह देवल के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम सरुपगंज कस्बे में पहुंची।

एसडीएम हरिसिंह व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सबसे पहले कस्बे की एक मिष्ठान भंडार पर पहुंचे जंहा उन्होंने मिष्ठान भंडार के व्यवसायी को मिठाई दुकान पर सूचनाएं चस्पा करने के निर्देश दिए।इसके बाद एसडीएम देवल,नायब तहसीलदार चोखाराम मीणा समेत टीम कस्बे के किराणा दुकानो पर पहुंचे जहां उन्होंने किराणा दुकानो से सवा सौ लीटर तेल संदिग्ध मिला जिस पर एसडीएम ने सवा सौ लीटर के सात डिब्बे जब्त कर लिए है अब उनका सैम्पल लिया जाएगा साथ ही करीब एक क्विंटल बेसन जो कि अवधिपार था उसे भी जब्त कर नष्ट करवा दिया गया है।एसडीएम हरिसिंह देवल व टीम की अचानक कार्रवाई के बाद कस्बे के व्यपारियों में हड़कंप सा मच गया।एसडीएम की छापेमार कार्रवाई से बाजार की दुकानों से शटर डाउन हो गए इतना ही नही एसडीएम देवल के शुद्ध के लिए युद्ध अभियान को लेकर सख्त तेवर के चलते दुकानदार अभी भी दुकानें खोंलने से कतरा रहे है।एसडीएम देवल ने कहा कि जो दुकानदार दुकान बंद कर भूमिगत हुए है उन पर कड़ी नजर रखकर पुनः कार्रवाई की जाएगी।उन्होंने कहा कि मिलावटखोरों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एसडीएम हरिसिंह देवल ने फर्स्ट इंडिया न्यूज को बताया कि शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत आगामी दिनों में भी कार्रवाई जारी रहेगी।उन्होंने बताया कि दुकानदारों के यहां से लिये गए खाद्य पदार्थ के सैम्पल यदि किसी भी प्रकार की मिलावट पाई गई तो दुकानदार के खिलाफ खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत मामला दर्ज करवाया जाएगा।इस अवसर पर भांवरी नायब तहसीलदार चोखाराम,पटवारी भैराराम देवासी समेत अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

मास्क को लेकर भी दी हिदायत-

शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के तहत सरुपगंज कस्बे में कार्रवाई करने आए एसडीएम हरिसिंह देवल ने जिन दुकानों पर बाहर नो मास्क नो एंट्री के पोस्टर नही लगे हुए थे उनको जोरदार फटकार लगाई।जिन दुकानो पर दुकानदारों ने मास्क नही पहने हुए थे उनको कोरोना गाइडलाईन की पालना को लेकर सख्त हिदायत भी दी।कुल मिलाकर जनजागरूकता अभियान को लेकर भी शुरुआत से बेहद संवेदनशील नजर आए तो वहीं अब शुद्ध के लिए युद्ध अभियान में भी वो मिलावटखोरों के खिलाफ उनका कड़े तेवर सख्त स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहे हैं।

मिलावट की सूचना देने पर मिलेगी प्रोत्साहन राशि-

पिंडवाड़ा उपखण्ड़ अधिकारी हरिसिंह देवल ने बताया कि शुद्ध के लिए युद्ध अभियान की अवधि में कहीं पर भी मिलावटी खाद्य वस्तु बनाने वालों की सूचना देने वालो की सूचना सही पाए जाने पर राज्य सरकार के नियमानुसार प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।खाद्य पदार्थो में मिलावट की सूचना बाबत प्राप्त शिकायत पर फूड सैम्पल लेकर नमूने की फूड टेस्टिंग करवाकर उसके परिणाम प्राप्त होने पर प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।उन्होंने कहा कि सूचना देने वालो की पहचान गोपनीय रखी जायेगी।